UPSC प्रारम्भिक परीक्षा 2024: विस्तृत विश्लेषण

0
1009
UPSC प्रारम्भिक परीक्षा 2024
UPSC प्रारम्भिक परीक्षा 2024

UPSC प्रारम्भिक परीक्षा 2024 को 16 जून 2024 को आयोजित किया गया है। प्रारम्भिक परीक्षा और उसमें पूछे गए प्रश्नों ने UPSC CSE की निरंतर विकसित होने वाली गतिशीलता में कई महत्त्वपूर्ण अंतर्दृष्टि प्रदान की है। NEXT IAS का यह लेख UPSC प्रारम्भिक परीक्षा 2024 का विस्तृत विश्लेषण प्रदान करता है, जो UPSC प्रारम्भिक परीक्षा प्रश्न पत्र 2024, विषय-वार भारांश, कठिनाई स्तर, श्रेणी-वार अपेक्षित कट-ऑफ और भविष्य के अभ्यर्थियों के लिए महत्त्वपूर्ण जानकारी प्रदान करता है।


चूंकि UPSC प्रारंभिक परीक्षा 2024 के समापन के साथ ही UPSC सिविल सेवा परीक्षा 2024 (UPSC CSE 2024) का प्रथम चरण पूरा हो जाएगा, इसलिए UPSC प्रारंभिक परीक्षा के मौजूदा ट्रेंड्स और पैटर्न के बारे में महत्त्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए इसका विस्तृत विश्लेषण करना ज़रूरी है। इससे अभ्यर्थियों को UPSC की मौजूदा अपेक्षाओं के साथ अपनी तैयारी को संरेखित करने में मदद मिल सकती है। आगे के अनुभागों में UPSC प्रारंभिक परीक्षा 2024 के विभिन्न पहलुओं का विस्तार से विश्लेषण किया गया है।

परीक्षा तिथि16 जून, 2024
परिणामों की घोषणाजुलाई 2024 का पहला सप्ताह (अपेक्षित)
समग्र कठिनाई का स्तरसरल से मध्यम (Easy to Moderate)
रिक्तियों की संख्या1056
UPSC प्रारंभिक परीक्षा 2024 में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों की अनुमानित संख्या5-6 लाख

परीक्षा के सामान्य अध्ययन और CSAT प्रश्न पत्रों के गहन विश्लेषण के आधार पर, UPSC प्रारंभिक परीक्षा 2024 को “सरल से मध्यम (Easy to Moderate)” के बीच कहीं वर्गीकृत किया जा सकता है।

UPSC प्रारंभिक परीक्षा 2024 के सामान्य अध्ययन-I (GS -I पेपर) में विषयवार भारांश इस प्रकार देखा जा सकता है:

विषयNumber of Questions
भारतीय अर्थव्यवस्था14
पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी15
भूगोल18
इतिहास12
भारतीय राजव्यवस्था15
विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी13
विविध (अंतर्राष्ट्रीय संबंध, समाज, आदि)13
कुल प्रश्न100
subject-wise weightage of questions in UPSC Prelims 2024
विषय (Subject)प्रश्नों की संख्या (Number of Questions)
वर्ष (Year)202320222021
अर्थव्यवस्था141715
पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी122216
भूगोल16814
इतिहास131520
भारतीय राजव्यवस्था12917
विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी151112
विविध (अंतर्राष्ट्रीय संबंध, समाज, आदि)181806
कुल प्रश्न100100100

UPSC प्रारंभिक परीक्षा के लिए CSAT पाठ्यक्रम के विभिन्न विषयों से कुल 80 प्रश्न पूछे गए थे। इन प्रश्नों का विषयवार विवरण जल्द ही अपडेट किया जाएगा।

UPSC CSE प्रिलिम्स 2024 के लिए सटीक कट-ऑफ UPSC द्वारा अप्रैल-मई 2025 के आसपास आधिकारिक रूप से जारी किए जाने के बाद ही पता चल पाएगी। हालांकि, परीक्षा के कठिनाई स्तर, रिक्तियों की संख्या और पिछले वर्षों के कट-ऑफ ट्रेंडस जैसे कारकों के आधार पर, विभिन्न श्रेणियों के लिए UPSC प्रिलिम्स 2024 के लिए अपेक्षित कट-ऑफ निम्नानुसार हो सकती है।

श्रेणी (Category)UPSC प्रिलिम्स 2024 के लिए अपेक्षित कट ऑफ
सामान्य श्रेणी 95 +/- 3 अंक
ओबीसी श्रेणी 92 +/- 3 अंक
EWS श्रेणी85 +/- 3 अंक
अनुसूचितजाति श्रेणी 83 +/- 3 अंक
अनुसूचितजनजाति श्रेणी77 +/- 3 अंक

नोट: UPSC प्रिलिम्स कट ऑफ 2024 के लिए उपरोक्त अनुमानित आंकड़े परीक्षा से संबंधित विभिन्न मापदंडों के प्राथमिक विश्लेषण पर आधारित हैं। अधिक विवरण सामने आने पर इन आंकड़ों को अपडेट किया जाएगा।

सामान्य श्रेणी के लिए UPSC CSE प्रारंभिक परीक्षा 2024 कट ऑफ लगभग 95 +/- 3 अंक होने की उम्मीद है।

ओबीसी श्रेणी के लिए UPSC CSE प्रारंभिक परीक्षा 2024 कट ऑफ लगभग 92 +/- 3 अंक होने की उम्मीद है।

एससी श्रेणी के लिए UPSC CSE प्रारंभिक परीक्षा 2024 कट ऑफ लगभग 83 +/- 3 अंक होने की उम्मीद है।

एसटी श्रेणी के लिए UPSC CSE प्रारंभिक परीक्षा 2024 कट ऑफ लगभग 77 +/- 3 अंक होने की उम्मीद है।

UPSC प्रिलिम्स परीक्षा के लिए कट-ऑफ अंकों के पिछले वर्षों के ट्रेंड्स इस प्रकार देखे जा सकते हैं:

श्रेणी (Category)202320222021202020192018
General75.4188.2287.5492.519898
OBC74.7587.5489.1289.1295.3496.66
ST47.8269.3570.7168.7177.3483.34
SC59.2574.0875.4174.848284
PWD 140.4049.8468.0270.0653.3473.34
PWD 247.1358.5967.3363.9444.6653.34
PWD 340.4040.4043.0940.8261.3440.00
PWD 533.6841.7645.8042.8661.3445.34
EWS68.0282.8380.1477.5590

अभ्यर्थियों को UPSC प्रिलिम्स 2024 का बेहतर विश्लेषण प्राप्त करने के लिए प्रिलिम्स एनालिटिका का उपयोग करने की सलाह दी जाती है। इससे उन्हें UPSC प्रिलिम्स कट ऑफ 2024 और परीक्षा में उनके प्रदर्शन एवं संभावनाओं का स्पष्ट विचार प्राप्त करने में भी मदद मिलेगी।

प्रिलिम्स एनालिटिका 2024 तक पहुँचने और उसका उपयोग करने के चरण इस प्रकार हैं:

  • NEXT IAS प्रिलिम्स एनालिटिका पर जाएँ।
  • अपनी प्रश्न पुस्तिका श्रृंखला/सेट चुनें।
  • आपके द्वारा हल किए गए सभी प्रश्नों के उत्तर दर्ज करें।
  • “रिपोर्ट जनरेट करें” पर क्लिक करें।
  • UPSC प्रिलिम्स 2024 में आपके प्रदर्शन की एक व्यापक रिपोर्ट आपकी स्क्रीन पर दिखाई देगी।
    • रिपोर्ट में UPSC प्रिलिम्स 2024 का विस्तृत विश्लेषण भी शामिल है।
  • समग्र तैयारी (Holistic Preparation): स्थिर विषयों और समसामयिक मामलों को कवर करने वाली एक एकीकृत तैयारी रणनीति पर ध्यान केंद्रित करें।
  • वैचारिक स्पष्टता (Conceptual Clarity): सभी विषयों में बुनियादी अवधारणाओं में एक मजबूत आधार विकसित करें।
  • नियमित रिवीज़न (Regular Revision): महत्त्वपूर्ण विषयों और वर्तमान घटनाओं का लगातार रिवीज़न महत्त्वपूर्ण है।
  • मॉक टेस्ट (Mock Tests): परीक्षा के लिए मन और समय प्रबंधन कौशल बनाने के लिए मॉक टेस्ट एवं पिछले वर्षों के प्रश्नपत्रों के साथ नियमित अभ्यास करें।
  • दृढ़ता और निरंतरता (Perseverance and consistency): दृढ़ता और निरंतरता UPSC प्रारंभिक परीक्षा में अच्छे प्रदर्शन की कुंजी हैं।
  • सही मार्गदर्शन (Right Guidance): इस तरह की गतिशील और निरंतर विकसित होने वाली परीक्षा को पास करने के लिए सही दिशा में स्मार्ट वर्क की आवश्यकता होती है। इसके लिए, सही मार्गदर्शन की आवश्यकता होती है ताकि आपकी कड़ी मेहनत को स्मार्ट वर्क में बदला जा सके।

UPSC प्रारंभिक परीक्षा 2024 एक चुनौतीपूर्ण परीक्षा थी, जिसमें अभ्यर्थियों को विषयों की एक विस्तृत श्रृंखला के द्वारा परखा गया। प्रश्नों की संतुलित प्रकृति ने सुनिश्चित किया कि अभ्यर्थियों को विषयों की व्यापक समझ के साथ-साथ करंट अफेयर्स के बारे में गहरी जानकारी की आवश्यकता थी। अब जब UPSC CSE 2024 का पहला चरण समाप्त हो गया है, तो सभी अभ्यर्थियों को सलाह दी जाती है कि वे प्रिलिम्स परीक्षा 2024 में अपने अच्छे या बुरे प्रदर्शन के बावजूद अपनी मेन्स की तैयारी जारी रखें।

हम आपको UPSC प्रिलिम्स रिजल्ट 2024 के लिए शुभकामनाएँ देते हैं!

टीम NEXT IAS।

क्या UPSC प्रिलिम्स 2024 कठिन था?

प्रश्न पत्र के विश्लेषण के आधार पर, UPSC प्रिलिम्स 2024 को “मध्यम से कठिन” के बीच वर्गीकृत किया जा सकता है।

UPSC प्रिलिम्स 2024 के लिए सुरक्षित स्कोर क्या है?

सामान्य श्रेणी के लिए 95 +/- 3 अंक, ओबीसी श्रेणी के लिए 92 +/- 3 अंक, एससी श्रेणी के लिए 83 +/- 3 अंक और एसटी श्रेणी के लिए 77 +/- 3 अंक को UPSC प्रारंभिक परीक्षा 2024 के लिए सुरक्षित स्कोर कहा जा सकता है।

UPSC प्रारंभिक परीक्षा 2024 के लिए अपेक्षित कट ऑफ क्या है?

UPSC प्रारंभिक परीक्षा 2024 के लिए अपेक्षित कट ऑफ अभ्यर्थियों की श्रेणी पर निर्भर करता है। UPSC प्रारंभिक परीक्षा 2024 के लिए हमारी श्रेणी-वार अपेक्षित कट ऑफ में इसका विस्तृत विश्लेषण दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here