सामान्य अध्ययन (GS) कोर्सेज

NEXT IAS प्रिलिम्स एवं मेन्स फाउंडेशन कोर्स, UPSC सिविल सेवा परीक्षा की प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा के सामान्य अध्ययन कोर्स को कवर करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह कोर्स अभ्यर्थियों के लिए एक मजबूत फाउंडेशन, विश्लेषणात्मक सोच (Analytical Thinking) और प्रभावी उत्तर-लेखन क्षमताओं को विकसित करने का एक पूर्ण रोडमैप प्रदान करता है।

UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए सामान्य अध्ययन रीढ़ की हड्डी के समान है, क्योंकि इसके द्वारा चयन प्रक्रिया के प्रत्येक चरण में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई जाती है। इसलिए, UPSC CSE में सफलता के लिए सामान्य अध्ययन की तैयारी पर फोकस करना बहुत ही आवश्यक है। सामान्य अध्ययन (GS) के लिए 'NEXT IAS प्रिलिम्स एवं मेन्स फाउंडेशन कोर्स' अभ्यर्थियों को UPSC कोर्स के इस महत्त्वपूर्ण भाग को व्यवस्थित और व्यापक तरीके से तैयार करने में सहायता करता है।

प्रिलिम्स एवं मेन्स फाउंडेशन कोर्स का मुख्य विशेषताएँ

  • 1-वर्षीय सामान्य अध्ययन प्रिलिम्स एवं मेन्स फाउंडेशन कोर्स: यह 11-12 महीने की अवधि में UPSC सिविल सेवा परीक्षा के प्रिलिम्स एवं मेन्स दोनों के कोर्स का एक समग्र कवरेज प्रदान करता है।
  • 1-वर्षीय एडवांस्ड इंटीग्रेटेड मेंटरशिप (AIM): लगभग 1 वर्ष की अवधि में, एडवांस्ड इंटीग्रेटेड मेंटरशिप (AIM) UPSC CSE में सफ़लता प्राप्त करने के लिए गहन, परिणाम-उन्मुख तैयारी (Result-Oriented Preparation) के लिए मार्गदर्शन प्रदान करता है।

प्रिलिम्स एवं मेन्स फाउंडेशन कोर्स के 2 मोड

  • ऑफ़लाइन मोड: ऑफ़लाइन प्रिलिम्स एवं मेन्स फाउंडेशन कोर्स NEXT IAS के विभिन्न सेंटरों पर संचालित किए जाते हैं।
  • ऑनलाइन मोड: ऑनलाइन प्रिलिम्स एवं मेन्स फाउंडेशन कोर्स ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म के माध्यम से सुलभ कराया जाता है - कहीं भी, कभी भी!

प्रिलिम्स एवं मेन्स फाउंडेशन कोर्स में किसे शामिल होना चाहिए?

ऐसे सभी इच्छुक अभ्यर्थी जो व्यवस्थित एवं इंटीग्रेटेड माध्यम से UPSC की तैयारी को प्रारम्भ करना चाहते हैं वे NEXT IAS प्रिलिम्स एवं मेन्स फाउंडेशन कोर्स में शामिल हो सकते हैं।

इन कोर्सेज़ के विभिन्न प्रारूप निम्नलिखित श्रेणियों के अभ्यर्थियों के लिए हैं:

  • वे अभ्यर्थी जो स्नातक (Graduation) की पढ़ाई कर रहे हैं।
  • वे अभ्यर्थी जिन्होंने अपनी स्नातक (Graduation) की पढ़ाई पूरी कर ली है।
  • वे अभ्यर्थी जो परा-स्नातक (Post-graduation) की पढ़ाई कर रहे हैं।
  • वे अभ्यर्थी जिन्होंने पहले से ही कुछ फाउंडेशन कोर्स किया हुआ है, लेकिन अपनी तैयारी को और बेहतर बनाना चाहते हैं।

कुल मिलाकर, ये कोर्स उन अभ्यर्थियों को भारत के भविष्य के नौकरशाहों में बदलने के लिए डिज़ाइन किए गए है, जिन्होंने बिल्कुल भी या बहुत कम UPSC की तैयारी की है।

प्रिलिम्स एवं मेन्स फाउंडेशन कोर्सज़ आपकी कैसे मदद करते हैं?

  • UPSC CSE की तैयारी के लिए एक मजबूत फाउंडेशन तैयार करते हैं।
  • इस कोर्स के माध्यम से UPSC CSE के व्यापक सामान्य अध्ययन को व्यवस्थित तरीके से कवर किया जाता है।
  • UPSC CSE की तैयारी की लंबी यात्रा को स्थिर और स्मार्ट तरीके से पूरा किया जाता है।
  • अपनी तैयारी को ट्रैक पर रखने के लिए अनुभवी अकादमिक कोच द्वारा मार्गदर्शन प्रदान किया जाता है।
  • अपने IAS बनने के सपने को साकार करने के लिए समग्र तैयारी की सुनिश्चितता।
icon